आश्रम भजनावली : नारायणमोरेश्वर खरे | Aashram Bhajnawali : Narayana Moreshwer Khare

आश्रम भजनावली : नारायणमोरेश्वर खरे | Aashram Bhajnawali : Narayana Moreshwer Khare

आश्रम भजनावली : नारायणमोरेश्वर खरे | Aashram Bhajnawali : Narayana Moreshwer Khare के बारे में अधिक जानकारी :

इस पुस्तक का नाम : आश्रम भजनावली है | इस पुस्तक के लेखक हैं : Narayana Moreshwer Khare | Narayana Moreshwer Khare की अन्य पुस्तकें पढने के लिए क्लिक करें : | इस पुस्तक का कुल साइज 2.7MB है | पुस्तक में कुल 365 पृष्ठ हैं |नीचे आश्रम भजनावली का डाउनलोड लिंक दिया गया है जहाँ से आप इस पुस्तक को मुफ्त डाउनलोड कर सकते हैं | आश्रम भजनावली पुस्तक की श्रेणियां हैं : music

Name of the Book is : Aashram Bhajnawali | This Book is written by Narayana Moreshwer Khare | To Read and Download More Books written by Narayana Moreshwer Khare in Hindi, Please Click : | The size of this book is 2.7MB | This Book has 365 Pages | The Download link of the book "Aashram Bhajnawali" is given above, you can downlaod Aashram Bhajnawali from the above link for free | Aashram Bhajnawali is posted under following categories music |


पुस्तक के लेखक :
पुस्तक की श्रेणी :
पुस्तक का साइज : 2.7MB
कुल पृष्ठ : 365
यदि इस पेज में कोई त्रुटी हो तो कृपया नीचे कमेन्ट में सूचित करें |
पुस्तक का एक अंश नीचे दिया गया है : यह अंश मशीनी टाइपिंग है, इसमें त्रुटियाँ संभव हैं, इसे पुस्तक का हिस्सा न माना जाये |

५९. राग मालकंस-झपताल
धर्ममणि मीन, मर्यादमणि रामचंद्र । रसिकमणि कृष्ण और ते जमणि नरहरि ।। कुठणमणि क गठ, वल-विपुलमणि वाराह, छलनमणि वामन, देह विकमधरि ॥ १ ॥ गिरिनमणि कनक गिरि, उदधिनमणि क्षीरनिधि, सरनमणि मान पर, नदिनमणि सुरसरी ॥ ३ ॥ खगनमणि गळे, आँगनमणि कल्पतरु ।। कपिन मणि हनुमान, पुरिनमणि अवधपुरी ॥ ३ ॥ सुभद्रमणि परशुधर, कति मणि चकबर, शक्तिमणि पाबंति, जान शंकरवरी ।
॥ ॥ भकमणि प्रल्हाद, प्रेममनि राधिके, मणिनकी माल गुद कंठ कान्हर घरी ॥ ५ ॥
मर्यादमणि : मर्यादाना आदर्श; कमट : काचबो सरन : तळाव; कति : चक; गुह : गूपीने

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.