मधु चिकित्सा | Madhu Chikitsa

मधु चिकित्सा | Madhu Chikitsa

मधु चिकित्सा | Madhu Chikitsa के बारे में अधिक जानकारी :

इस पुस्तक का नाम : मधु चिकित्सा है | इस पुस्तक के लेखक हैं : Ramchandra varma | Ramchandra varma की अन्य पुस्तकें पढने के लिए क्लिक करें : | इस पुस्तक का कुल साइज 1.0 MB है | पुस्तक में कुल 44 पृष्ठ हैं |नीचे मधु चिकित्सा का डाउनलोड लिंक दिया गया है जहाँ से आप इस पुस्तक को मुफ्त डाउनलोड कर सकते हैं | मधु चिकित्सा पुस्तक की श्रेणियां हैं : health, Knowledge

Name of the Book is : Madhu Chikitsa | This Book is written by Ramchandra varma | To Read and Download More Books written by Ramchandra varma in Hindi, Please Click : | The size of this book is 1.0 MB | This Book has 44 Pages | The Download link of the book "Madhu Chikitsa " is given above, you can downlaod Madhu Chikitsa from the above link for free | Madhu Chikitsa is posted under following categories health, Knowledge |


पुस्तक के लेखक :
पुस्तक की श्रेणी : ,
पुस्तक का साइज : 1.0 MB
कुल पृष्ठ : 44

Search On Amazon यदि इस पेज में कोई त्रुटी हो तो कृपया नीचे कमेन्ट में सूचित करें |
पुस्तक का एक अंश नीचे दिया गया है : यह अंश मशीनी टाइपिंग है, इसमें त्रुटियाँ संभव हैं, इसे पुस्तक का हिस्सा न माना जाये |

यदि मधुका आश्चर्यजनक गुण देखना हो तो किसी गर्भिणी स्त्रीको उसकी गर्भावस्थासे ही नित्य थोडा थोड़ा मधु देना आरम्भ कीजिए और यह क्रिया प्रसवकाल तक बराबर जारी रखिए । इसके उपरान्त जब उसे सन्तान उत्पन्न हो तब उस सन्तानको भी बराबर दूधके साथ थोड़ा थोड़ा मधु देते रहिए । फिर देखिए कि साल दो सालका होने पर वह बच्चा कितना अधिक हृष्ट पुष्ट और स्वस्थ रहता है । परीक्षा करने पर यह विधि बहुत ही गुणकारी प्रमाणित हुई है । बालकको मीठी चीजे बहुत पसन्द होती हैं और अधिकाश बालक मीठे पदार्थ वहुत चावसे खाया करते है।

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.