बसरा की लाइब्रेरियन (इराक से सच्ची कहानी) | The Librarian Of Basra (True Story From Iraq)

बसरा की लाइब्रेरियन (इराक से सच्ची कहानी) : जीनेट विंटर | The Librarian Of Basra (True Story From Iraq) : Jeanette Winter

बसरा की लाइब्रेरियन (इराक से सच्ची कहानी) : जीनेट विंटर | The Librarian Of Basra (True Story From Iraq) : Jeanette Winter के बारे में अधिक जानकारी :

इस पुस्तक का नाम : बसरा की लाइब्रेरियन (इराक से सच्ची कहानी) है | इस पुस्तक के लेखक हैं : Arvind Gupta, Jeanette Winter | Arvind Gupta, Jeanette Winter की अन्य पुस्तकें पढने के लिए क्लिक करें : , | इस पुस्तक का कुल साइज 1 MB है | पुस्तक में कुल 31 पृष्ठ हैं |नीचे बसरा की लाइब्रेरियन (इराक से सच्ची कहानी) का डाउनलोड लिंक दिया गया है जहाँ से आप इस पुस्तक को मुफ्त डाउनलोड कर सकते हैं | बसरा की लाइब्रेरियन (इराक से सच्ची कहानी) पुस्तक की श्रेणियां हैं : inspirational, Stories, Novels & Plays

Name of the Book is : The Librarian Of Basra (True Story From Iraq) | This Book is written by Arvind Gupta, Jeanette Winter | To Read and Download More Books written by Arvind Gupta, Jeanette Winter in Hindi, Please Click : , | The size of this book is 1 MB | This Book has 31 Pages | The Download link of the book "The Librarian Of Basra (True Story From Iraq) " is given above, you can downlaod The Librarian Of Basra (True Story From Iraq) from the above link for free | The Librarian Of Basra (True Story From Iraq) is posted under following categories inspirational, Stories, Novels & Plays |


पुस्तक के लेखक : ,
पुस्तक की श्रेणी : ,
पुस्तक का साइज : 1 MB
कुल पृष्ठ : 31

Search On Amazon यदि इस पेज में कोई त्रुटी हो तो कृपया नीचे कमेन्ट में सूचित करें |
पुस्तक का एक अंश नीचे दिया गया है : यह अंश मशीनी टाइपिंग है, इसमें त्रुटियाँ संभव हैं, इसे पुस्तक का हिस्सा न माना जाये |

आलिया को डर है कि कहीं जंग की आग में लाइब्रेरी की पुस्तकें न जल जाए।
वो किताबें सोने के पहाड़ों से भी ज्यादा बेशकीमती थीं।
लाइब्रेरी में हरेक भाषा की किताबें थीं।
कुछ किताबें नई थीं, कुछ पुरानी। लाइब्रेरी में मोहम्मद साहिब की एक जीवनी भी थी,
| जो सात सौ साल पुरानी थी। आलिया ने लाइब्रेरी को किसी सुरक्षित जगह पर ले जाने के लिए बसरा के गवर्नर की अनुमति मांगी।
गवर्नर ने साफ इंकार कर दिया।
* :
Alia worries that the fires of war will destroy the books,
which are more precious to her than mountains of gold,
The books are in every language - new books, ancient books, even a biography of Muhammad that is seven hundred years old. She asks the governor for permission to move them to a safe place.
He refuses.

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.