श्रीमद देवी भागवत पुराण हिंदी पुस्तक मुफ्त डाउनलोड करें | Shreemad Devi Bhagvat Puran Hindio Book Free Download

श्रीमद देवी भागवत पुराण हिंदी पुस्तक मुफ्त डाउनलोड करें | Shreemad Devi Bhagvat Puran Hindio Book Free Download

श्रीमद देवी भागवत पुराण हिंदी पुस्तक मुफ्त डाउनलोड करें | Shreemad Devi Bhagvat Puran Hindio Book Free Download के बारे में अधिक जानकारी :

इस पुस्तक का नाम : है | इस पुस्तक के लेखक हैं : | की अन्य पुस्तकें पढने के लिए क्लिक करें : | इस पुस्तक का कुल साइज 48.83 MB है | पुस्तक में कुल 722 पृष्ठ हैं |नीचे का डाउनलोड लिंक दिया गया है जहाँ से आप इस पुस्तक को मुफ्त डाउनलोड कर सकते हैं | पुस्तक की श्रेणियां हैं : dharm, gita-press, hindu

Name of the Book is : | This Book is written by | To Read and Download More Books written by in Hindi, Please Click : | The size of this book is 48.83 MB | This Book has 722 Pages | The Download link of the book "" is given above, you can downlaod from the above link for free | is posted under following categories dharm, gita-press, hindu |


पुस्तक की श्रेणी : , ,
पुस्तक का साइज : 48.83 MB
कुल पृष्ठ : 722

Search On Amazon यदि इस पेज में कोई त्रुटी हो तो कृपया नीचे कमेन्ट में सूचित करें |
पुस्तक का एक अंश नीचे दिया गया है : यह अंश मशीनी टाइपिंग है, इसमें त्रुटियाँ संभव हैं, इसे पुस्तक का हिस्सा न माना जाये |

# जययुक्त श्रीदेवी अश्ेत्तर-सदस्रनाम + जययुक्त श्रीदेवी-अशेत्तर-सहसनाम जय हु दुर्गतिनाशिनि जय। जय मा कालविनाशिनि जय जय ॥ जयति शैलपुत्री मा जय जय। प्रप्मचारिणी माता जय जय ॥ जयति चम्द्रयण्दा मा जय जय। जय कूष्माण्डा श्कल्जननि लय ॥ जप मा कात्यायिनी जयति जय। जयति कालयघी मा जय जय ॥ जयति महागोंगी देवी जय। जयति सिद्धिदाची मा जय जय ॥ जय काली जय तारा जय जय । जय जगजननि पोडशी जय जय ॥ जय भुवनेश्वर माता जय जय। जयदि छिन्नमस्ता मा जय जय ॥ जयति सैरवी देवी जय जय। जय जय धूमावती जयति जय ॥ जय बंगला मातंगी जय जय। जयति जयति मां कमला जय जय ॥ जयति महाकाली मा जय जय । जयति माालक्ष्मी मां जय जय ॥ जय मा मदासरखति जय जय । उमा रमा प्राणी जय जय ॥ कौग्रेसी चारुणी जयति जप। जय कच्छपी नाएसिंद्दी जय ॥ जय मत्य्या फौमारी जय जय। जय बैष्णचीं वासवी जय जय ॥ जय मसाधव-मनवासिनि जय जय । फीर्ति। धक्षीर्तिः क्षमा करुणा जय ॥ छापा। माया तुष्टि पुष्टि जय । जयति फान्ति। जय श्रार्ति कषान्ति जय ॥ लयति घुद्धिः भ्रूति दूत्ति जयति जय । जयति छुधा दष्णा। प्रिया जय ॥ श्रीदेवीजीके १००८ नाम जय निद्ाः तन्द्वी अद्यान्ति जय । जय लज़ाः सजा श्रुति जय जय ॥ जय रखूति पस-साधना जय जय । जय श्रद्धा मेधा माला जय ॥ जय श्री भूमि दया। मोदा जय । मज़ा बसा त्वचा नाड़ी जय ॥ इच्छाः दाक्ति। भददक्ति शान्ति जय | पराः बैखरी पदय्ती जय ॥ मध्याः सत्यासत्या जय जय | चाणी मघुरा परुषा जय जय ॥ जएमुजा। दूशभुज्ञा जयति जय । अध्रादश शुभ भुजा जयति जय ॥ दुप्रदलनि बहुभुजा जयति जय | चतुमुखाः व्रहुमुखा जयति जय ॥ जय ददधावकत्रा। दृशपादा जय | जय त्रिशलोचना जयति जय ॥ द्विभुजाः चतुर्भुजा मा जय जय। जय कदम्बमाला। चन्द्रा जय ॥ जय प्रयुप्लजननि देवी जय। जय क्षीराणंव्रसुते जयति जय ॥ दारिद्रबाणघ-शोषिणि जय जय । सम्पति वेभव-पोषिणि जय जय ॥ दूयामयीः सुतहितकारिणि जय । पद्मावती माठती जय जय भीप्मकराजसुता धनदा जय। बिरजा रजा सुशीछा जय जय ॥ सकल सम्पदारूपा जय जय सदाप्रसन्ा शान्तिमपी जय ॥ श्रीपतिप्रिये पद्मलोचनि जय । हरिहियराजिनिः कान्तिमयी जय ॥ जयति मिरिसुता दैमबती जय। परमेशानि महेशानी जय ॥ प्‌ पमटयरयययरटटटटययययपटटपटटटाााााायाायययणणाणयणणणणनणणणणणणणणणणटनननटन--ननननननननचननन तनमेभधन लाल न सयटयपरवटदनयन्टनन्यानानकम्टन्कनकण्कनकम

You might also like
3 Comments
  1. Shiva M says

    thankuuuu….:)

  2. सुबोध दास सण्डीला हरदोई यूपी says

    यह पुस्तक डाउनलोड नही हो रही है

    1. admin says

      क्षमा चाहते हैं . पुस्तकों के लिंक कम नहीं कर रहे थे किन्तु अब लिंक अपडेट कर दिए गए हैं डाउनलोड करने में अब को दिक्कत नहीं आएगी

Leave A Reply

Your email address will not be published.