विज्ञान भैरव तंत्र ( तंत्र सूत्र ) | Vigyan Bhairav Tantra ( Tantra Sutra )

विज्ञान भैरव तंत्र ( तंत्र सूत्र ) – ओशो | Vigyan Bhairav Tantra ( Tantra Sutra ) – Osho |

विज्ञान भैरव तंत्र ( तंत्र सूत्र ) – ओशो | Vigyan Bhairav Tantra ( Tantra Sutra ) – Osho | के बारे में अधिक जानकारी :

इस पुस्तक का नाम : विज्ञान भैरव तंत्र ( तंत्र सूत्र ) है | इस पुस्तक के लेखक हैं : osho | osho की अन्य पुस्तकें पढने के लिए क्लिक करें : | इस पुस्तक का कुल साइज 4MB है | पुस्तक में कुल 309 पृष्ठ हैं |नीचे विज्ञान भैरव तंत्र ( तंत्र सूत्र ) का डाउनलोड लिंक दिया गया है जहाँ से आप इस पुस्तक को मुफ्त डाउनलोड कर सकते हैं | विज्ञान भैरव तंत्र ( तंत्र सूत्र ) पुस्तक की श्रेणियां हैं : jyotish, Spirituality -Adhyatm, suggested

Name of the Book is : Vigyan Bhairav Tantra ( Tantra Sutra ) | This Book is written by osho | To Read and Download More Books written by osho in Hindi, Please Click : | The size of this book is 4MB | This Book has 309 Pages | The Download link of the book "Vigyan Bhairav Tantra ( Tantra Sutra )" is given above, you can downlaod Vigyan Bhairav Tantra ( Tantra Sutra ) from the above link for free | Vigyan Bhairav Tantra ( Tantra Sutra ) is posted under following categories jyotish, Spirituality -Adhyatm, suggested |


पुस्तक के लेखक :
पुस्तक की श्रेणी : , ,
पुस्तक का साइज : 4MB
कुल पृष्ठ : 309

Search On Amazon यदि इस पेज में कोई त्रुटी हो तो कृपया नीचे कमेन्ट में सूचित करें |
पुस्तक का एक अंश नीचे दिया गया है : यह अंश मशीनी टाइपिंग है, इसमें त्रुटियाँ संभव हैं, इसे पुस्तक का हिस्सा न माना जाये |

विज्ञान भैरव तंत्र का जगत बौद्धिक नहीं है। वह दार्शनिक भी नहीं है। तंत्र शब्द का अर्थ है। विधि, उपाय, मार्ग। इस लिए यह एक वैज्ञानिक ग्रंथ है। विज्ञान क्यों की नहीं, “कैसे” की फिक्र करता है। दर्शन और विज्ञान में यही बुनियादी भेद है। दर्शन पूछता है। यह अस्तित्व क्यों है? विज्ञान पूछता है, यह आस्तित्व कैसे है? जब तुम कैसे का प्रश्न पूछते हो, तब उपाय, विधि, महत्वपूर्ण हो जाती है। तब सिद्धांत व्यर्थ हो जाती है। अनुभव केंद्र बन जाता है।
विज्ञान का मतलब है चेतना है। और भैरव का विशेष शब्द है, तांत्रिक शब्द, जो पारगामी के लिए कहा जाता है। इसीलिए शिव को भैरव कहते है, और देवी को भैरवी–वे जो समस्त दुवैत के पार चले जाते है। पार्वती कहती हैआपका सत्य रूप क्या है?
यह आपका आश्चर्य-भरा जगता क्या है?
इसका बीज क्या है?
विश्व चक्र की धूरी क्या है?
यह चक्र चलता ही जाता है—महा परिवर्तन, सतत प्रवाह।
इसका मध्य बिंदु क्या है?
इसकी धूरी कहां है?
अचल केंद्र कहां है?
रूपों पर छाए लेकिन रूप के परे यह जीवन क्या है?

You might also like
23 Comments
  1. Gyan says

    :)) :-# bahut hi sarahniy praytna , isi tarah osho ki pustaken hindi pdf direct link ke sath uplabdh karate rahiye ….

    1. Subodh Sharma says

      can you please also send me the vigyan bhairav tantra in hindi on my gmail id (subodhsharma3@gmail.com)

      many thanks

  2. Anonymous says

    खूब खूब धन्यवाद

  3. sefu sefu says

    भाइ जी कृपया आप अपने साइट पर प्राचीन दुर्लभ महाइन्द्रजाल या फीर इन्द्रजाल कीताब कीजिये

  4. Anonymous says

    aap patanjali yoga sutra osho (hindi) ke sabhi bhago ko uplabdh karaye thanks for best try

    1. ganesh oza says

      apna mail id dijiye me aapko bhej dunga

  5. vishnuprasad gyani says

    उत्तम् प्रयास हे धन्यवाद
    किन्तु

  6. Yash Sharma says

    plz patanjali yogsutra full

  7. Yash Sharma says

    plz patanjali yogsutra full

  8. shaurya Sahu says

    dil khush kar diya aap ne

  9. janu puri goswami says

    तंत्र कामुदि की सूत्र

  10. janu puri goswami says

    शाबर मन्त्र

  11. makkhan says

    विज्ञानभैरव तंत्र डाउनलोड करना है हम आप से विनमॄ अनुरोध करते हैं, कि ओशो विज्ञान भैरव त्ंत्र हिन्दी मै अपलोड करें! ॐ नमः शिवाय

  12. Ram sunder says

    kripya vigyan bhairavtantra par guru ji ke 80 pravachano ko kram se hindi pdf me download ke liye upload karne ki kripa kijiye.

  13. kartik baraiya says

    vigyan bhairav tantra. kyo download nhi ho sakta krupya ise download karvane ki krupa kre

  14. ak says

    no connection…. to link !!

  15. Nirav says

    Please provie updated links to download whole Vigyan Bhairav Tantra by Osho rajnish in “Hindi” only

    These links is not working, please help me in this by giving updated links where I can download. Please please please

  16. gaurav says

    These links is not working, please help me in this by giving updated links where I can download. Please please please

    1. Jatin says

      Link will be updated soon

  17. rahul says

    Send me link to download osho- vigyan bhairva tantra hindi (download link please in hindi)

  18. Satbir says

    Send me web link of vigyan bherv tantera hindi book on my email. Thanks

  19. Shubhamchoubey says

    🙏Vigyan bhairav tantra ka part 5 uplabdha kijiye.

    1. admin says

      book ka link update kar diya hai. ek bar aur koshish kare avashya download hoga.

Leave A Reply

Your email address will not be published.