श्रीराष्ट्रालोक: | Shri Rashtraloka

श्रीराष्ट्रालोक | Shri Rashtraloka

श्रीराष्ट्रालोक | Shri Rashtraloka के बारे में अधिक जानकारी :

इस पुस्तक का नाम : श्रीराष्ट्रालोक: है | इस पुस्तक के लेखक हैं : Amritvagbhav Acharya | Amritvagbhav Acharya की अन्य पुस्तकें पढने के लिए क्लिक करें : | इस पुस्तक का कुल साइज 13.4 MB है | पुस्तक में कुल 44 पृष्ठ हैं |नीचे श्रीराष्ट्रालोक: का डाउनलोड लिंक दिया गया है जहाँ से आप इस पुस्तक को मुफ्त डाउनलोड कर सकते हैं | श्रीराष्ट्रालोक: पुस्तक की श्रेणियां हैं : Spirituality -Adhyatm

Name of the Book is : Shri Rashtraloka | This Book is written by Amritvagbhav Acharya | To Read and Download More Books written by Amritvagbhav Acharya in Hindi, Please Click : | The size of this book is 13.4 MB | This Book has 44 Pages | The Download link of the book "Shri Rashtraloka " is given above, you can downlaod Shri Rashtraloka from the above link for free | Shri Rashtraloka is posted under following categories Spirituality -Adhyatm |


पुस्तक के लेखक :
पुस्तक की श्रेणी :
पुस्तक का साइज : 13.4 MB
कुल पृष्ठ : 44

Search On Amazon यदि इस पेज में कोई त्रुटी हो तो कृपया नीचे कमेन्ट में सूचित करें |
पुस्तक का एक अंश नीचे दिया गया है : यह अंश मशीनी टाइपिंग है, इसमें त्रुटियाँ संभव हैं, इसे पुस्तक का हिस्सा न माना जाये |

मनुष्यमात्रके लिए परम कल्याणकारी व सन्मार्गप्रदर्शक यह वहीं अद्भुत आध्यात्मिक दार्शनिक ग्रन्थरत्न है जिसके प्रकाशित होते ही दार्शनिक जगतमें हलचलसी मच गई और सैकड़ों प्रतियां हाथों हाथ लग गई । इस ग्रन्थ को पढ़नेसे स्थितप्रज्ञता प्राप्त होती है, चित्त शान्त होता है, संसार बाहर भीतर सम्पूर्णरूपसे आनन्दमय प्रतीत होता है । अतः यदि आप भी आत्मा क्या है ? परमात्मा क्या है १ ईश्वर जगदुत्पत्ति क्यों और किस प्रकार करता है ? हम क्या हैं और हमें क्या करना चाहिए १ दर्शन किसे कहते हैं ? उनका प्रारम्भ तथा अन्त कहाँ होता है ?

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.