धर्म पुस्तक का सार | Substance Of the Bible

धर्म पुस्तक का सार : हिंदी अनुवादित पीडीऍफ़ पुस्तक | Substance Of the Bible : Hindi Version PDF Book

धर्म पुस्तक का सार : हिंदी अनुवादित पीडीऍफ़ पुस्तक | Substance Of the Bible : Hindi Version PDF Book के बारे में अधिक जानकारी :

इस पुस्तक का नाम : धर्म पुस्तक का सार है | इस पुस्तक के लेखक हैं : | की अन्य पुस्तकें पढने के लिए क्लिक करें : | इस पुस्तक का कुल साइज 700 KB है | पुस्तक में कुल 28 पृष्ठ हैं |नीचे धर्म पुस्तक का सार का डाउनलोड लिंक दिया गया है जहाँ से आप इस पुस्तक को मुफ्त डाउनलोड कर सकते हैं | धर्म पुस्तक का सार पुस्तक की श्रेणियां हैं : christian, dharm

Name of the Book is : Substance Of the Bible | This Book is written by | To Read and Download More Books written by in Hindi, Please Click : | The size of this book is 700 KB | This Book has 28 Pages | The Download link of the book "Substance Of the Bible " is given above, you can downlaod Substance Of the Bible from the above link for free | Substance Of the Bible is posted under following categories christian, dharm |


पुस्तक की श्रेणी : ,
पुस्तक का साइज : 700 KB
कुल पृष्ठ : 28

Search On Amazon यदि इस पेज में कोई त्रुटी हो तो कृपया नीचे कमेन्ट में सूचित करें |
पुस्तक का एक अंश नीचे दिया गया है : यह अंश मशीनी टाइपिंग है, इसमें त्रुटियाँ संभव हैं, इसे पुस्तक का हिस्सा न माना जाये |

पृ० ॥॥ कीन रूप अरु कौन सुभाव । ताका बर्णन करि समुझाव ॥
बर्णन करीं सुनें चित लाय। पूछां उन्हें सा देहिं बताय ॥ निज चेतन का कहि समुझावें। क्या है सो वे माहि बतावें॥ निर्गुण है कि है गुणमान । केन रूप है कहें बखान ॥ यदि निज चेतन थाह न पावे। तेा अथाह के याह कस आवे॥ पर जा धर्मग्रंथ ने भाई । कहा कहां से सकल बुझाई॥
दोहा।। बर्णन तत्व सुभाव का . ईश्वर के यह जान। और जो वाके गुण अमित . ताका मुनि चित ठान ॥
चौपाई।।

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.