भुट्टा ही मक्का है – इंडियन्स का तोहफा | Corn Is Maize – The Gift Of The Indians

भुट्टा ही मक्का है – इंडियन्स का तोहफा : अलिकी हिंदी पुस्तक | Corn Is Maize – The Gift Of The Indians : Aliki Hindi Book

भुट्टा ही मक्का है – इंडियन्स का तोहफा : अलिकी हिंदी पुस्तक | Corn Is Maize – The Gift Of The Indians : Aliki Hindi Book के बारे में अधिक जानकारी :

इस पुस्तक का नाम : भुट्टा ही मक्का है – इंडियन्स का तोहफा है | इस पुस्तक के लेखक हैं : Arvind Gupta | Arvind Gupta की अन्य पुस्तकें पढने के लिए क्लिक करें : | इस पुस्तक का कुल साइज 20.55 MB है | पुस्तक में कुल 38 पृष्ठ हैं |नीचे भुट्टा ही मक्का है – इंडियन्स का तोहफा का डाउनलोड लिंक दिया गया है जहाँ से आप इस पुस्तक को मुफ्त डाउनलोड कर सकते हैं | भुट्टा ही मक्का है – इंडियन्स का तोहफा पुस्तक की श्रेणियां हैं : children, history

Name of the Book is : Corn Is Maize – The Gift Of The Indians | This Book is written by Arvind Gupta | To Read and Download More Books written by Arvind Gupta in Hindi, Please Click : | The size of this book is 20.55 MB | This Book has 38 Pages | The Download link of the book "Corn Is Maize – The Gift Of The Indians" is given above, you can downlaod Corn Is Maize – The Gift Of The Indians from the above link for free | Corn Is Maize – The Gift Of The Indians is posted under following categories children, history |


पुस्तक के लेखक :
पुस्तक की श्रेणी : ,
पुस्तक का साइज : 20.55 MB
कुल पृष्ठ : 38

Search On Amazon यदि इस पेज में कोई त्रुटी हो तो कृपया नीचे कमेन्ट में सूचित करें |
पुस्तक का एक अंश नीचे दिया गया है : यह अंश मशीनी टाइपिंग है, इसमें त्रुटियाँ संभव हैं, इसे पुस्तक का हिस्सा न माना जाये |

छिप फातडपाएपा हा फि। 1घा70 18 घास (181 8 धिााला निपड5 1घ४९ 06छुपाा (0 8कूक0पां हि 0ा 16 11065. & 2प5 15 8 9पाएत16 ए 168९8 घंटी1 19 तााघफूफछऐं घ 0पा10 डघा ऐड एव 51). पका एणफा डं11६ 15 घि1 लिएघ16 81 0 116 018101.. 1 955615 छा0छ 1116 8 परा हा घि1 ५07 01 (116 5117. पुकार (घ55615 घा 16 11816 पि0फए हा 5. कर. गरमी के मधय तक मकके का पौधा किसान से भी ऊंचा हो जाता है. फिर जोड़ों पर से पततियों का गुचछा निकलना शुरू होता है जो रेशम जैसे मुलायम धागों में लिपटा होता है. यह रेशम जैसे रेशे पौधे के मादा हिससे होते हैं. यह रेशमी गुचछे डंठल के ऊपर एक टोपी जैसे उगते हैं. यह गुचछे नर फूल होते हैं.

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.